राष्ट्रीय जनता दल सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव को दिल्ली एम्स में भर्ती करने से इंकार कर दिया | आपको बता दे की मंगलवार को लालू प्रसाद यादव को दिल्ली एम्स में इलाज के लिए लाया गया था | लेकिन एम्स के डॉक्टरों ने उन्हें भर्ती करने से मना कर दिया| साथ ही उनके परिवार वालो को ये भी सलाह दी कि उन्हें रांची वापस ले जाकर रिम्स में भर्ती कर इलाज कराये |

इस पोस्ट को अच्छे से पढ़ने के लिए हमारी एंड्राइड ऐप का इस्तेमाल करें ऐप डाउनलोड करें

Delhi AIIMS refuses to recruit Lalu Prasad Yadav, says, get treatment in Ranchi RIMS

सूत्रों के अनुसार  दिल्ली एम्स के डॉक्टर्स ने लालू प्रसाद यादव को रांची के रिम्स अस्पताल में इलाज कराने की सलाह दी है | बताया जा  रहा है कि लालू प्रसाद यादव दिल्ली से करीबन तीन बजे रांची के लिए रवाना होंगे इससे पहले जब एम्स में लालू यादव को लाया गया था तो उन्हें इमरजेंसी डिपार्टमेंट की निगरानी में रखा गया | बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव को किडनी में बढ़ते संक्रमण को देखते हुए मंगलवार की शाम को लगभग 6 बजे उन्हें विशेष विमान से दिल्ली लाया गया था | हम आपको बता दे की रांची के  रिम्स मेडिकल बोर्ड की सलाह से उन्हें दिल्ली लाया गया था |

लालू यादव को उनकी बेटी मीसा भारती अपने साथ विशेष विमान में लायी थी | इससे पहले स्तिथ राजेंद्र आयुर्विज्ञान संस्थान (रिम्स) के मेडिकल बोर्ड की बैठक में मंगलवार को लालू प्रसाद यादव को दिल्ली भेजने पर फैसला लिया गया था | रिम्स निर्देशक डॉ कामेश्वर प्रसाद ने बताया है कि लालू प्रसाद यादव की स्तिथि दिन पर दिन खराब होती जा रही है | और उनके हार्ट और किडनी पर बभी असर हुआ है | उन्होंने बताया की पिछली बार भी इलाज के लिए उन्हें एम्स दिल्ली भेजा गया था | बोर्ड ने बताया की लालू प्रसाद यादव का क्रिएटिनिन स्तर बढ़ता जा रहा है |

और वह नियंत्रित नहीं हो पा रहे है | बता दे कि कोरंडा कोषागार से अवैध निकासी के मामले में लालू प्रसाद यादव सजायाफ्ता है और उनका क्रिएटिनिन लेवल 4.1 से बढ़कर 4.6 हो गया है | इसी बीच डॉ विद्यापति ने बताया था कि लालू यादव ब्लड शुगर,रक्तचाप,हृदय रोग ,गुर्दे की बीमारी ,थेलिसिमिया,प्रोस्टेट  बढ़ने ,यूरिक एसिड के बनने तथा मस्तिष्क से सम्बंधित बीमारियों से ग्रस्त है उन्होंने बताया था कि इतना ही नहीं लालू कमजोर प्रतिरोधक क्षमता, दाहिने कंधे की हड्डी में दर्द, पैर की हड्डी की समस्या तथा दृष्टि दोषों से भी जूझ रहे हैं.

इस पोस्ट को अच्छे से पढ़ने के लिए हमारी एंड्राइड ऐप का इस्तेमाल करें ऐप डाउनलोड करें